जो हुआ उसकी उम्मीद और इंतजार हर किसी को था कि गुजरात विधानसभा चुनाव कैसे बगैर धार्मिक हाय हाय के सम्पन्न हुये जा रहे हैं.