सैनिक हूं. सीने पर गोली खाई भी तो देश की खातिर लेकिन मेरे न रहने से देश को क्या फर्क पड़ा? फर्क पड़ा तो आंसू बहाती पत्नी को, नन्ही सी मेरी बच्ची को.