क्रिकेट में हर दिन कोई न कोई रिकौर्ड दर्ज होता है लेकिन ऐसा बहुत कम होता है कि किसी गेंदबाज का पूरा करियर बिना नो बौल फेंके ही बीत जाए. हालांकि ये रिकौर्ड दर्ज होते-होते रह गया लेकिन ये भी कम नहीं था कि किसी गेंदबाज ने पांच हजार से ज्यादा गेंदे फेंकी हों और उनमें से एक भी नो बौल न गई हो. इंग्लैंड के क्रिस वोक्स (Chris Woakes) ने करियर की 5253 गेंदें फेंक दी लेकिन एक भी नो बौल नहीं डाली.

औस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई एशेज सीरीज में वोक्स का नो बौल ना फेंकने का सिलसिला टूट गया. उन्होंने सीरीज के पांचवें मैच में टेस्ट करियर की पहली नो बौल फेंकी. उस पर विकेट भी लगभग मिल ही गया था लेकिन कुछ ऐसा हुआ, कि बल्लेबाज आउट नहीं हुआ. इसकी वजह भी ऐसी थी, जिसे वोक्स शायद ही भूल पाएं.

इंग्लैंड और औस्ट्रेलिया के बीच खेली गई एशेज सीरीज से ड्रौ रही. दोनों टीमों ने 2-2 मैच जीते. सीरीज का एक मैच बेनतीजा रहा. सीरीज के पांचवें मैच के चौथे दिन इंग्लैंड (England) के मीडियम पेस गेंदबाज क्रिस वोक्स ने अपने टेस्ट करियर की पहली नो बौल फेंकी. वैसे यह उनके टेस्ट करियर की 5254वीं गेंद थी. उन्होंने अपने करियर की शुरुआती 5253 गेंदों में एक बार भी नो बौल नहीं की थी.

ये भी पढ़ें- खेल पत्रकारिता का गिरता स्तर, जिम्मेदार कौन

यह औस्ट्रेलिया की पारी के 31वें ओवर की दूसरी गेंद थी. क्रिस वोक्स के सामने मिचेल मार्श (Mitchell Marsh) थे. वे अच्छी बैटिंग कर रहे थे. मिचेल मार्श ने इस ओवर की दूसरी गेंद को खेलना चाहा, लेकिन वे थर्ड स्लिप में कैच दे बैठे. क्रिस वोक्स विकेट मिलने की खुशी में उछल पड़े. मार्श भी पैवेलियन की ओर बढ़ गए. तभी फील्ड अंपायर ने मार्श को रोक लिया.

फील्ड अंपायर को शक था कि क्रिस वोक्स का पैर क्रीज से आगे निकला है. ओवर स्टेपिंग के कारण यह नो बौल हो सकती है. फील्ड अंपायर ने इस बारे में थर्ड अंपायर से पूछा. थर्ड अंपायर ने इसे नो बौल करार दिया. वोक्स का पैर वाकई में क्रीज से आगे निकल गया था. इस तरह मिचेल मार्श को नौट आउट करार दिया गया.

ये भी पढ़ें- टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान,

क्रिस वोक्स का यह 31वां टेस्ट मैच था. उन्होंने इस मैच से पहले 87 विकेट लिए थे. वोक्स ने औस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों पारियों में कुल मिलाकर 17 ओवर की गेंदबाजी की और एक विकेट लिया. उन्हें दूसरा विकेट मिलते-मिलते रह गया. इस तरह 30 साल के क्रिस वोक्स ने अपने 31वें टेस्ट मैच में पहली नो बौल फेंकी. उन्होंने 31 टेस्ट मैच में 88 विकेट लिए हैं और 27.92 की औसत से 1145 रन भी बनाए हैं. इसमें एक शतक और चार अर्धशतक शामिल हैं. औलराउंडर वोक्स ने 99 वनडे और आठ टी20 मैच भी खेले हैं.

Tags:
COMMENT