दवा की दुकान से बैंडएड खरीद कर शिवानी घर की तरफ चल पड़ी. मौसम बहुत सुहावना था. किसी भी समय बारिश शुरू हो सकती थी. ठंडी हवा के झोंकों ने उस के तनमन को तरोताजा कर दिया.