सेंट्रल यूनिवर्सिटी में पीएचडी की पढ़ाई करने वाले दलित स्कालर रोहित के मानसिक उत्पीड़न का मामला उस समय देशभर में गूंजा था. रोहित ने अपनी जान देने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा था, जिस में कई मार्मिक टिप्पणियां थीं.