सवाल

मैं 41 साल की महिला हूं. 2 बच्चे हैं, जो बोर्डिंग में पढ़ाई कर रहे हैं. पति ने उच्च शिक्षा विदेश से ली मगर खानदानी बिजनैस को आगे बढाने के लिए उन्होंने विदेश की नौकरी छोड़ दी. घर में बेशुमार धनदौलत है.  मैं भी उच्च शिक्षित हूं पर कभी नौकरी में दिलचस्पी नहीं ली. घर में काफी खुला माहौल है और आए दिन पार्टियां होती रहती हैं.

कुछ साल पहले पति के एक मित्र ने अपने फौर्महाउस में एक रात पार्टी रखी, जिस में हम चुनिंदा लोग शामिल हुए. वह एक ऐसी पार्टी थी जिस में शराब के नशे में किस के साथ क्या हो रहा है इस का किसी को सुध नहीं था. उस रात टेबल पर 5 गिलास में पहले तो बीयर डाली गई फिर एक-दूसरे की कार की चाबियां. फिर पुरूषों की आंखों पर पट्टियां बांध दी गईं. अब उन्हें एक-एक गिलास उठा कर उस में से कार की चाबी निकालनी थी. जिस किसी की कार की चाबी निकलती उस की बीवी को उस के साथ हमबिस्तर होना जरूरी था. अगर किसी के हाथ अपनी ही कार की चाबी निकली तो उसे यही सब फिर से दोहराना जरूरी था. हम सब शराब के नशे में मदहोश थे. यह एक ऐसा खेल था जिस में हम सब की ही रजामंदी थी. यह खेल कई सालों तक चला. इस बीच मैं शराब की आदी हो गई और अकेले भी खुद उन दोस्तों के साथ शराब पीती फिर सैक्स संबंध बनाती.

अब मुझे इन सब चीजों से चिढ़ होने लगी है और कभी-कभी तो घर में अकेली ही बंद रहती हूं. शराब छोड़ देने की पूरी कोशिश की पर बिना पिए रहा नहीं जाता. इस से मेरी शारीरिक दशा खराब हो गई है. चेहरे की रौनक बगैर मेकअप के सही नहीं लगती.

उधर पति को इन सब से कोई मतलब नहीं है. उन्हें सिर्फ पैसा चाहिए और मौजमस्ती. गलती तो मेरी थी कि मेरे कदम क्यों बहक गए? बड़ी उलझन में हूं. समझ नहीं आता क्या करूं?

यह एक पाठक की समस्या है. इस पर आप की राय क्या है? अपना सुझाव नीचे दिए कमैंट्स बौक्स में जरूर दें…

ये भी पढ़ें- मेरे पति कौलगर्ल से मन बहलाते हैं…मैं क्या करुं?

Tags:
COMMENT