सरस सलिल विशेष

साल 2017 में दोनों के बीच इश्क का फुतूर क्या चढ़ा, उन का एक पल के लिए एकदूसरे से जुदा होना मुश्किल हो गया. एक के पास सियासत और दौलत का रुतबा था, तो दूसरे के पास बेपनाह हुस्न. वैसे, रोहित शेखर कोई मामूली शख्स भी नहीं था.

वह उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के 4 बार मुख्यमंत्री रहे नारायण दत्त तिवारी का बेटा था. हालांकि खुद को बेटा साबित कराने के लिए रोहित शेखर ने लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी थी. लंबे समय तक साथ रहने के बाद अपूर्वा और रोहित शेखर तिवारी की सगाई हुई और फिर 11 मई, 2018 को दिल्ली के 5, अशोका रोड पर बने आनंद भवन में दोनों की शानदार शादी हुई. हालांकि जिस वक्त उन दोनों की शादी हो रही थी, तब नारायण दत्त तिवारी अस्पताल में भरती थे. एनडी तिवारी के ‘गुंजनू’ एनडी तिवारी रोहित को प्यार से ‘गुंजनू’ बुलाते थे. कानूनी विवाद खत्म होने के बाद मार्च, 2014 से रोहित शेखर अपने पिता एनडी तिवारी के साथ ही रहने लगा था. इस से पहले साल 2008 में रोहित शेखर ने जब अदालत में मामला दायर कर खुद को एनडी तिवारी का बेटा बताया था, तो देश में सनसनी फैल गई थी. शुरुआत में एनडी तिवारी ने रोहित शेखर को अपना बेटा मानने से इनकार किया था, पर बाद में जब डीएनए रिपोर्ट से यह साबित हो गया था कि रोहित एनडी तिवारी का ही बेटा है, तो एनडी तिवारी ने साल 2014 में रोहित शेखर की मां उज्ज्वला से लखनऊ में शादी कर ली थी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • मनोहर कहानियां की दिलचस्प क्राइम स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की चटपटी गॉसिप्स
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
Tags:
COMMENT