शादी की बात पक्की होते ही रिश्तेदारों की छातियों पर कोबरे यों लोटने लगते हैं मानो परमाणुबम बनने से रोकने से भी ज्यादा जरूरी है शादी में विघ्न डालना. हो भी क्यों न.