बिहार के बक्सर जिले के डीएम (जिलाधीश) मुकेश पांडे ने सुसाइड करने से पहले सुसाइड नोट का वीडियो बनाया था. सुसाइड के लिए पारिवारिक विवाद और तनातनी को जिम्मेदार ठहराया गया.

उन्होंने वीडियो में साफ कहा है कि उन की बीवी और मातापिता के बीच के तनाव भरे रिश्ते से उन का जीना दुश्वार हो गया था. 11 अगस्त, 2017 को गाजियाबाद स्टेशन से एक किलोमीटर दूर कोटगांव के पास रेलवे ट्रैक पर उन का कटा हुआ शव बरामद हुआ था.

4 अगस्त, 2017 को ही उन की पहली बार जिलाधीश के तौर पर बक्सर में पोस्टिंग हुई थी. 2 दिन की छुट्टी ले कर और बक्सर के डीडीसी को अपना चार्ज दे कर वे बनारस होते हुए हवाईजहाज से दिल्ली आ गए थे.

वे दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके के होटल लीला पैलेस के कमरा नंबर 742 में ठहरे थे. रात 10 बजे के बाद उन की लाश मिलने की खबर आई.

बिहार के सारण जिले के दरियापुर ब्लौक के सांझा गांव के मूल निवासी मुकेश पांडे पटना के मारुति शोरूम के मालिक राकेश कुमार सिंह के दामाद थे. रेलवे ट्रैक के पास भी एक सुसाइड नोट मिला था, जिस पर लिखा था, ‘आई एम सौरी. लव यू आल. प्लीज फौरगिव मी.’

रूस के मास्को में रहने वाले मुकेश पांडे के बड़े भाई राकेश पांडे भारतीय विदेश सेवा के अफसर हैं. उन्होंने कहा कि कभीकभार मुकेश से बातचीत होती थी. हालचाल पूछने पर वह हमेशा कहता था कि वह ठीक है. काम के बारे में भी वह बात करता था. उस ने कभी किसी पारिवारिक तनाव या परेशानी की बात नहीं बताई.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरस सलिल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...