भारत में सैक्स टौयज बेचना दंडनीय अपराध है. इस के बावजूद इस का बाजार गरम है. क्या एक बार इस के नैतिक व अनैतिक दृष्टिकोण को समझने की जरूरत नहीं है?