अमेरिका में बहस चलने लगी है कि नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तानाशाह और निष्ठुर बनने के कितने आसार हैं और अगर जनता ने अभी चेत कर कुछ नहीं किया तो क्या हो सकता है. अमेरिका की येल यूनिवर्सिटी के इतिहासकार टिमोथी सिंडर का विचार है कि अमेरिका के पास शायद सिर्फ एक वर्ष है जिस में जनता तानाशाही के बढ़ते सैलाब को रोक सकती है.

इतिहास के 20 उदाहरण ले कर टिमोथी सिंडर ने कहा कि लगभग एक वर्ष में हर संभावित तानाशाह अपने पैर जमा लेता है. हिटलर को लगभग एक साल लगा था. हंगरी को ढाई साल लगे थे. पोलैंड का उदाहरण है जब तानाशाह शासक ने एक साल में न्यायालयों को शक्तिहीन कर दिया था.

टिमोथी का कहना है कि पहले लोग मानसिक रूप से संभावित शासक की लच्छेदार बातों में अपना हित देखते हैं और फिर उन्हें लगने लगता है कि दशकों से बनी संस्थाएं उन का हित करने वाले शासक के हाथ रोक रही हैं. उन्हें वे लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करने वाले, तानाशाह के शब्दों के अनुसार सुधारों में अड़चन डालने वाले लगने लगती हैं. टिमोथी सिंडर का कहना है कि इतिहास ऐसे उदाहरणों से भरा है जिन में जनता के समर्थन की लहर के बीच से उभरे लोकप्रिय नेता तानाशाही शासकों का लबादा ओढ़ लेते हैं.

रूस के कम्युनिस्ट शासकों के दौरान और आज भी व्लादिमीर पुतिन के समय लोकतंत्र है, बाकायदा चुनाव होते हैं, विपक्षी खड़े होते हैं पर लोगों को पैरों के नीचे महसूस होता है कि तानाशाही की कंपन है और विरोध करने वाले को कुचल दिया जाएगा. हिटलर ने भी ऐसा ही किया था. इस तरह के चुनाव बहुत जल्दी मजाक बन जाते हैं. तानाशाह झूठी लोकप्रियता और उस के माहौल के मिश्रण का इस्तेमाल कर के कानून, अदालतों, मीडिया और विचारकों को इस तरह निष्क्रिय कर देता है कि चुनाव में कोई पर्याप्त ही नहीं बचता.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरस सलिल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...