मदर टेरेसा की बायोपिक का फर्स्ट लुक आ गया है. मदर टेरेसा के जीवन पर प्रदीप शर्मा, नितिन मनमोहन, गिरीश जौहर और प्राची मनमोहन मिलकर यह बायोपिक बनाने वाले हैं. फिल्म की डायरेक्टर और राइटर सीमा उपाध्याय हैं.

आपको बता दें कि सीमा फिल्म की स्क्रिप्ट पर करीब तीन सालों से काम कर रही थीं. सीमा का कहना है कि वो उनकी जीवन के उन पहलुओं को सामने लाना चाहती हैं जिनके बारे में कम लोगों  को पता है. ये फिल्म दो घंटों की होगी. इस साल में सितंबर या अक्टूबर तक फिल्म की शूटिंग चालू होगी. कयास लगाए जा रहे हैं कि 2020 तक फिल्म रिलीज हो सकती है.

इससे पहले भी मदर टेरेसा पर दुनिया भर में फिल्में और डौक्सूमेंट्रीज बन चुकी हैं. इसमें खास तौर पर 1997 में बना टीवी शो मदर ‘टेरेसा इन द नेम औफ गौड्स पुअर’ था. वहीं 2003 में मदर टेरेसा औफ कलकत्ता और 2014 में अमेरिकन ड्रामा द लैटर्स बनाया गया था। जिसमें जूलियट स्टीवेन्सन ने मदर टेरेसा का रोल किया था.
मेसिडोनिया में जन्मी मदर टेरेसा 1929 में भारत आईं और यहां कई साल तक एक शिक्षक के रूप में काम करती रहीं. 1950 में कलकत्ता में उन्होंने मिशनरीज औफ चैरिटीज की स्थापना की, इसके बाद उन्हें भारतीय नागरिकता मिल गई. आगे चल कर 1979 में उन्हें नोबल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

Tags:
COMMENT