दिव्या के न होने से अनुराग का खुशहाल परिवार तिनकेतिनके हो बिखर जाता अगर चित्रा न होती. आखिर कौन थी यह चित्रा?