कभी अपनी प्रैस्टीज की खातिर, कभी खुद को सही साबित करने के लिए तो कभी अपनी उचित अनुचित इच्छा पूरी न होने पर युवती बलात्कार का आरोप भी लगा सकती है.

'सरस सलिल' पर आप पढ़ सकते हैं 10 आर्टिकल बिलकुल फ्री , अनलिमिटेड पढ़ने के लिए Subscribe Now