जीवन के संघर्ष में कब कौन ऊंचाई को छूने लगता है, कोई नहीं जानता. 23 साल की हरलीन देओल को क्रिकेट के जुनून में "एक कैच" ने ऐसी पहचान दी है जिसे जादुई, मायावी या एंद्ररिक कहा जा सकता है. सिर्फ एक कैच के कारण हरलीन देओल आज लोगों की आंखों का तारा बन गई हैं. क्रिकेट की दुनिया में जहां उसकी बेहद प्रशंसा हुई है वहीं आम जनता, खेल प्रेमी क्रिकेट की "सुप्रीम गर्ल" संबोधित कर रहे हैं.

दरअसल,खेल के मैदान में ऐसा दृश्य भाग्य शाली लोग ही देख पाते हैं.  हरलीन देओल ने जो रोमांचित करने वाला कमाल किया वह सारी दुनिया में वायरल हो गया है . हरलीन देओल ने  बाउंड्री पर एक बेहतरीन कैच लपका और उसके बाद उसने अंदाज़ा लगाया कि मेरा पांव बाउंड्री के पार जा सकता है,तो  तुरंत गेंद को मैदान के अंदर उछाल दिया और बाउंड्री के पार से फिर अंदर छलांग लगाकर कैच को लपक लिया. खेल के मैदान में नृत्य की सी यह चपलता क्रिकेट के बड़े-बड़े दिग्गजों और खेल प्रेमियों को  बेहद रास आई है.

ये भी पढ़ें- Online Harassment से डरें नहीं, मुकाबला करें

आइए! आज आपको क्रिकेट के इस ऐतिहासिक क्षणों को जीने वाली और देश का नाम रोशन करने वाले क्रिकेटर हरलीन देओल के बारे में आपको बताते हैं. कैसे एक साधारण सी लड़की जो सिर्फ फील्डिंग कर रही थी, किस तरह उन्होंने एक सिर्फ एक कैच लेने के बाद मानो इतिहास रच दिया और जो प्रशंसा पाई है वैसी लोगों के नसीब में बहुत ऊंचाई पर पहुंचने के बाद ही मिल पाती है. हरलीन के इस बेहतरीन खेल एक्ट के बाद दुनिया भर में लोगों ने प्रशंसा की और आप भी वीडियो देख कर के दांतो तले उंगली दबा लेंगे.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • मनोहर कहानियां की दिलचस्प क्राइम स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की चटपटी गॉसिप्स
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
Tags:
COMMENT