सवाल-

मैं एक गरीब घर का होनहार लड़का हूं और फिलहाल बीए फाइनल के इम्तिहान की तैयारी कर रहा हूं. अभी हाल ही में मेरा ध्यान अपनी एक कालेज टीचर को देख कर भटकने लगा है. वह भी मुझे देख कर मुस्कुराती है और खाली समय में साथ चाय पीने की बात कहती है.

कालेज के दूसरे साथी मुझे उस से दूर रहने की सलाह देते हैं कि वह औरत किरदार की अच्छी नहीं है. लेकिन मैं अपना ध्यान उस से हटा नहीं पा रहा हूं. वैसे, अपनी टीचर के साथ चाय पीने में बुराई ही क्या है? सलाह दें.

ये भी पढ़ें- मेरे प्रेमी की छोटी बहन मुझे पसंद नहीं करती, मैं क्या करूं?

जवाब-

टीचर के साथ चाय पीने में कोई हर्ज नहीं है, लेकिन इस के बाद जो होने के ख्वाब आप देख रहे हैं, वे यही हैं कि फिर वह अकेले में आप को घर बुलाएगी, अपनी सैक्सी अदाओं से आप को लुभाएगी, फिर आप उसे अपनी बांहों में समेट लेंगे, उस के बाद गरमागरम सांसों का एक तूफान आएगा और फिर…

कई बार एक अच्छे जने का साथ जिंदगी सुधार देता है. अगर आप को लगे कि आप खिलौना नहीं बनेंगे, तो थोड़ा जोखिम लेने में हर्ज नहीं.

ये भी पढ़ें- मेरे महल्ले के एक दबंग ने मुझे धमकी दी है कि मैं बच्चों को ट्यूशन पढ़ाना छोड़ दूं, मैं क्या करूं?

Tags:
COMMENT