हार कर बैठ जाना समस्या का समाधान नहीं, इसी सोच के साथ अरुणा ने कमर कस ली थी कि मम्मीजी के इलाज में वह कोई कोरकसर नहीं छोड़ेगी, लेकिन नतीजा क्या निकला?