सरस सलिल विशेष

‘कभी कभी मेरे दिल में ख्याल आता है’, ‘तेरे चेहरे से नजर नहीं हटती’, ‘दिल चीज क्या है’ जैसे फिल्मी गीतों को अपने मधुर संगीत में संवारने वाले पद्मभूषण से सम्मानित मशहूर संगीतकार खय्याम और उनकी पत्नी जगजीत कौर ने फिल्म इंडस्ट्री के जरूरतमंदों के लिए डेढ़ लाख का चेक अपने ‘खय्याम केपीजे चैरिटेबल ट्रस्ट’ की तरफ से ‘फेडरेशन औफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्पलौइज’ के औफिस में 14 मई को आयोजित एक भव्य समारोह में  प्रदान किया.

इस अवसर पर ‘फेडरेशन औफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्पलौइज’ के अध्यक्ष बी एन तिवारी, महासचिव अशोक दुबे और अन्य पदाधिकारी मौजूद थे. खय्याम साहब पिछले तीन वर्षों से हर वर्ष डेढ़ लाख रूपए का चेक अपने इस ट्रस्ट से देते आ रहे हैं.

इस भव्य समारोह में भजन सम्राट अनूप जलोटा, फिल्म स्टूडियोज सेटिंग एंड एलाइड मजदूर यूनियन के महासचिव गंगेष्वरलाल श्रीवास्तव उर्फ राजू, सिने एंड आर्टिस्ट्स एसोसिएशन के महासचिव सुशांत सिंह आदि मुख्य अतिथि थे. इसके अलावा बौलीवुड से जुड़ी सभी 22 यूनियनों के पदाधिकारियों ने अपनी उपस्थिति से कार्यक्रम को सफल बनाया.

इस अवसर पर फेडरेशन औफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्प्लाइज के अध्यक्ष बी एन तिवारी ने कहा – ‘‘ हम लोग खय्याम साहब के शुक्रगुजार हैं, जो कि फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के बारे में सोचते हैं. ऐसी सोच सभी को भगवान दें. हम लोग चाहते हैं कि खय्याम साहब का आशीर्वाद हमेशा हम लोगों पर बना रहे और वह हमेशा यहां आकर हम लोगों का हौसला बढ़ाए, पैसे ना भी मिले तो भी चलेगा.’’

entertainment

जबकि खय्याम साहब ने कहा – ‘‘हमें फिल्म इंडस्ट्री ने इतना कुछ दिया है कि अब हम लोगों ने सोचा अब फिल्म इंडस्ट्री को वापस किया जाए. इसीलिए यह कदम उठाया है. हमारी तरफ से हर वर्ष ‘फेडरेशन’ को डेढ़ लाख रूपए का चेक मिलता रहेगा. हम लोग चाहते हैं कि अन्य लोग आगे आएं, और फिल्म इंडस्ट्री की भलाई के लिए कुछ करें. हम रहें या ना रहें, लेकिन हमारा ट्रस्ट चलता रहेगा. यह ट्रस्ट लोगों की मदद करता रहेगा.

हमारे निधन के बाद हमारी पूरी चल अचल संपत्ति को बेचकर नगद राशि के रूप में बदलकर ट्रस्ट के नाम पर बैंक में फिक्स डिपोजिट किया जाएगा. इससे जो फायदा होगा, उसमें से 5 लाख रूपए प्रधानमंत्री कोश में, पांच लाख रूपए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कोश में और इंडस्ट्री के जरूरतमंद लोगों को एक लाख रूपए की जीवन में एक बार मदद करेगा.

इस अवसर पर फिल्म स्टूडियोज सेटिंग एंड एलाइड मजबूर यूनियन के महासचिव गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव और फेडरेशन औफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्प्लाइज के महासचिव अशोक दुबे ने आश्वस्त किया कि वह फेडरेशन को फिर से मजबूत बनाने का प्रयास कर रहे हैं. इन्होने कहा-‘निर्माताओं को भी विश्वास दिलाया है कि हम लोग एक हैं और हम लोगों को साथ मिलकर चलना है. हम एक दूसरे के बिना अधूरे हैं.’’

खय्याम साहब व उनकी पत्नी द्वारा स्थापित ट्रस्ट ‘‘खय्याम केपीजे ट्स्ट’’ में अनूप जलोटा, तलत अजीज व राज शर्मा ट्रस्टी हैं.

इस अवसर पर खय्याम साहब और उनकी पत्नी जगजीत कौर, अनूप जलोटा, बी एन तिवारी, अशोक दुबे, किशन शर्मा, गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव उर्फ संजू, सुशांत सिंह के अलावा फेडरेशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष फिरोज खान, उपाध्यक्ष संगम, मजदूर यूनियन के उपाध्यक्ष शरफुद्दीन मोहम्मद, राकेश मौर्या तथा फिल्म से संबंधित 22 यूनियनों के पदाधिकारियों में से राम चौधरी, राज सूर्य, पिंकी मोरे, फिरोज भाई, धर्म अरोड़ा, इमरान मर्चेंट, सुरेंद्र श्रीवास्तव, कुंदन गोस्वामी, अशोक पांडे, हिंमाशु भट्ट, आशफाक खोपेकर, हनीफ भाई, मुन्ना भाई सुलेखा इत्यादी लोगों ने कार्यक्रम को सफल बनाया.

VIDEO : जियोमेट्रिक स्ट्राइप्स नेल आर्ट

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.