सुरा प्रेम यानी शराब से लगाव में भारत का दर्जा दुनिया के दूसरे कई देशों से बहुत ऊपर है. दुनिया में हमारा खुशहाली सूचकांक गिर रहा है तो शराब की खपत के मामले में तेजी से आगे बढ़ रहा है.