ऑनलाइन हिंदी कहानी

हाइसोसाइटी की मिसेज चोपड़ा एनजीओ की संचालिका थीं. अकसर मीडिया में छाए रहना उन्हें अच्छा लगता था. पीडि़त महिलाओं के दुखदर्द को मीडिया के सामने लाना वह अपना कर्तव्य समझती थीं. लेकिन वही मीडिया एक दिन उन के घर जा पहुंचा ‘खबर’ बनाने के लिए.

'सरस सलिल' पर आप पढ़ सकते हैं 10 आर्टिकल बिलकुल फ्री , अनलिमिटेड पढ़ने के लिए Subscribe Now