इंटरनैट पर कई तरह की आपत्तिजनक पौर्नसाइट्स को देखने और कुछ पर चैटिंग करने का बच्चों को ऐसा चस्का लगता है कि वे उन में डूबते चले जाते हैं.