एक गांधी जी थे जिन्हें महात्मा बनने का बड़ा शौक था शौक क्या था लगभग एब था. फिर कल तक जो देश में मोहनदास करमचंद गांधी और विदेश में एमके गांधी कहे जाते थे वे देखते ही देखते राष्ट्रपिता हो गए. आजादी की लड़ाई के चक्कर में वे पूरा हिंदुस्तान घूमे तो दरिद्र नारायनों यानि दलितों की दुर्दशा देख उन्हें ज्ञान प्राप्त हो गया कि गुलामी की असल वजह वर्ण व्यवस्था है सो उन्होंने कहा, रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीता राम...

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • मनोहर कहानियां की दिलचस्प क्राइम स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की चटपटी गॉसिप्स
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
Tags:
COMMENT