चीन से आया हौआ कोरोना से हम पूरी तरह वाकिफ भी न हुए थे, वहीं चीन के युन्नान प्रोविंस से ही आया नया वायरस हंता जो कि जिंदा चूहा और गिलहरी के खाने से होता है तहलका मचा रहा है. हंता वायरस से एक की मौत भी हो गई है.

भारत में कोरोना को ले कर बहुत से लोग अभी भी जागरूक नहीं हैं, पर सरकार ने लोगों को जागरूक करने का बीड़ा उठाया है, बीड़ा है कि लोग अपने घरों में ही रहें. घर से बाहर न जाएं.

हैरानी इस बात की है कि लोग सजग नहीं हैं, बेपरवाह सड़कों पर घूम रहे हैं, बहाना बना रहे हैं, सरकार के नियमों की बेखौफ धज्जियां उड़ा रहे हैं. जब पुलिस पूछताछ कर रही है तो कोई ठोस जवाब तक नहीं दे पा रहे.

ये भी पढ़ें- #Coronavirus: कोरोना का ताबीज बाला बाबा

इसी को ध्यान में रख कर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र के नाम सम्बोधन में लॉक डाउन की समय सीमा 31 मार्च से बढ़ा कर 14 अप्रैल कर दी. वहीं पुलिस को भी सख्ती से निबटने का फरमान जारी कर दिया.

इधर सरकारी फरमान जारी हुआ, उधर इस फरमान से बेखबर सरकारी प्रतिबंधों की अनदेखी कर शादी करना अलग अलग जगह पर इन दूल्हों  को भारी पड़ गया.

एक दूल्हा नहीं, बल्कि 2 दूल्हे थे. ये दूल्हे न सिर्फ गिरफ्तार हुए, बल्कि अपने परिवार वालों को भी सलाखों के पीछे पहुंचवा दिया.

शादी के बाद सुहागरात मनाने का इन का सपना चकनाचूर हो गया. दोनों दूल्हों ने जेल में करवटें बदलते हुए रातें काटीं. अब कब तक काटनी पड़ेगी, कुछ कह नहीं सकते.

ओडिशा पुलिस ने कंधमाल जिले में ही 2 दूल्हों को सरकारी आदेश का उल्लंघन कर शादी समारोह आयोजित करने के आरोप में गिरफ्तार किया है.

सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर 5 लोगों से ज्यादा के एक जगह पर जमा होने पर रोक लगा रखी है, लेकिन इन दोनों दूल्हों ने शादी के जश्न में सरकारी आदेश की परवाह नहीं की.

ओडिशा पुलिस ने कंधमाल जिले के नौपद गांव के परमेश्वर भोक्ता को गिरफ्तार किया है. उस ने अपनी शादी की खुशी में पार्टी दी थी, जिस में  70-80 लोग शामिल हुए थे.

ये भी पढ़ें- हवस की खातिर मिटा दिया सिंदूर

वहीं दूसरी घटना खजूरीगांव की है. यहां के आदिवासी युवक बिजू कन्हार को भी गिरफ्तार किया गया है. बिजू कन्हार ने अपनी शादी में बरात निकाली थी, जिस में कई लोग शामिल हुए थे.

पुलिस ने दूल्हे के भाई को भी गिरफ्तार किया है जिस ने बारात में आने के लिए लोगों को न्योता दिया था.

शादी का सपना पाले इन फूल से नाजुक लाडलों ने किस तरह  जेल में अपनी रातें काटी होंगी, यह तो इन्हें जिंदगी भर सालता रहेगा, पर थोड़ी नासमझी के चलते ऐसा हुआ. यदि आप भी शादी करने का सपना पाल रहे हैं तो थोड़ा रुक जाएं. कहीं ऐसा न हो, जेल भुगतनी पड़े.

सावधान रहें, समयसमय पर सरकार अपने आदेश में साफसाफ बता रही है कि कोरोना महामारी है. इस से बचना ही एकमात्र उपाय है तो कोई रोड पर न निकले. घर में ही रहे, अपने को लॉक करें. पुलिस की मार से बचें. जब बहुत ही जरूरी हो, तभी जाएं. दूध सब्जियां, दवा वगैरह लेने जाएं अन्यथा अन्यत्र न जाएं. वरना पुलिस भी अब बेवजह घूमने वालों पर लाठी भांजने से चूक नहीं रही.

Tags:
COMMENT