काश हम तुम न कभी यूं कहीं मिले होते, चाहतों के फिर नहीं ऐसे सिलसिले होते.
Page 1 of 612345...Last »