सरस सलिल विशेष

हाल ही में आतिफ असलम ने अपकमिंग फिल्म ‘मित्रों’ के एक गाने में अपनी आवाजा दी है. यह गाना फिल्म ‘पाकीजा’ से सदाबहार गीत ‘चलते-चलते’ का है, जिसका असल ट्रैक पुराने जमाने की बड़ी अदाकारा रहीं मीना कुमारी पर फिल्माया गया था. गाने के बोल कैफी आजमी ने दिए थे. अब इसे रीमेक कर दर्शकों के सामने एक बार फिर से परोसा गया है. इस गाने के कवर वर्जन के लिए लिरिक्स और म्यूजिक दोनों तनिष्क बाग्ची ने दिए हैं. इस गाने को दर्शकों की मिली जुली प्रतिक्रिया मिल रही है. कई लोगों को यह गाना पसंद आया तो कई ने इसे सिरे से नाकारा है.

ऐसे में महान गायिका लता मंगेश्कर से जब इस गाने पर रिएक्शन मांगा गया तो उन्होंने कहा कि उन्होंने ये गाना अभी तक नहीं सुना है. लता जी कहती हैं, ‘और मैं सुनना भी नहीं चाहती. आज कल जो पुराने गानों को नया बना कर चलाने का रिवाज है वह गाने मुझे बेहद दुखी करते हैं. अब क्रिएटीविटी कहां हैं? गानों में वह सादगी कहां हैं. मैंने हमेशा सुना है कि रीमिक्स गानों में लिरिक्स बदल दिए जाते हैं. पर किसकी सहमति से?’ लता मंगेश्कर आगे कहती हैं, ‘ओरिजनल कंपोजर और कवियों ने वह लिखा जो उनके पास था. किसी को अधिकार नहीं है कि वह उसे बदले. उसकी क्रिएटीविटी को बदले.

बॉलीवुड में अब तक पुराने गानों की तर्ज पर कई सुपरहिट गानों को रीमेक किया गया है. हाल ही में फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ में गाना ‘दिलबर-दिलबर’ सामने आया था. यह गाना फिल्म ‘सिर्फ तुम’ का था जिसे अल्का याज्ञनिक ने अपनी आवाज दी थी. नए ‘दिलबर दिलबर’ गाने के सामने आने के बाद सिंगर अल्का से जब गाने पर रिएक्शन मांगा गया, तो उन्होंने कहा था, ‘वह नया गाना क्यों नहीं बना सकते. वह एक नया सुपरहिट गाना बना कर हिट क्यों नहीं कर सकते? बजाय कि पुराना गाना जो कि पहले से ही हिट है उसे दोबारा हिट कराने की क्या आवश्यकता. उसे दोबारा कुछ भी बना कर रिलीज करना और कहना कि देखो- गाना कितना पौपुलर हो गया है. अजब है.’