देश में किस तरह युवा अंधविश्वास और तंत्र-मंत्र के फेर में, आज भी पड़कर अपना एवं अपने आसपास के लोगों के लिए खतरा बने हुए हैं.