सिलाई और रफू का काम कर गुजरबसर करने वाली रमा ने हर्ष को बड़े जतन से पालपोस कर बड़ा किया, पढ़ाया लिखाया, शादी की. शादी के बाद हर्ष ने पत्नी को ब्रांडेड कपड़े दिलवाए लेकिन जब मां से किए वादे को पूरा करने की बारी आई तो सिल्क की साड़ी तो दी पर.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now