लेखिका- किरण आहूजा

मोना और मौलोए उन हैप्पी मैरिट कपल्स में से हैं जिन्होंने शादी के बाद अपनी मैरिट लाइफ खूब इंजौय की. शादी के 2 साल बाद एक प्यारा सा बेटा और 5वें साल में खूबसूरत सी बेटी के मातापिता बन गए. विवाह के बाद कोई दिन ऐसा न जाता जब दोनों अंतरंग न होते हों. दोनों की सैक्स लाइफ भरपूर रंगीन थी. बच्चे होने के बाद भी दोनों ने अपनी सैक्स लाइफ में कमी नहीं आने दी लेकिन फिर जैसेजैसे बच्चे बड़े होने लगे और मौलोए की औफिस की जिम्मेदारियां हद से ज्यादा बढ़ने लगीं, मोना भी बच्चों की परवरिश में व्यस्त होने लगी, घर के काम बढ़ने लगे, मोना और मौलोए के बीच की नजदीकियां धीरेधीरे कम होने लगीं.

ऐसा नहीं था कि दोनों के बीच प्यार कम हो रहा था या दोनों एकदूसरे के लिए प्यार महसूस नहीं करते थे या सैक्स के लिए उन की चाह कम हो गईर् थी लेकिन अब पहले जैसी गरमजोशी व उतावलापन, एकदूसरे के प्रति खिंचाव कम होने लगा था. वह सोचने लगे थे शायद 40+ और बढ़ती हुई उन की उम्र का तकाजा है.

ऐसे कितने ही कपल हैं जिन के सामने ये समस्या आती है. कुछ कपल यह सोच कर अपने मन को तसल्ली देने लगते हैं कि यार अब तो उग्र बढ़ रही है, सैक्स में रुचि कम हो ही जाती है.

लेकिन सच में क्या ऐसा होता है यदि आप पार्टनर के साथ सैक्स का आनंद उठाते हैं तो कभी भी सेक्स में आप की रुचि कम नहीं हो सकती. इस के बावजूद देखने में आ रहा है कि युवा मैरिट कपल में कामेच्छा, सैक्स की कमी हो रही है. वे सैक्स में उतना इंजौय नहीं करते जितना कि उन्हें करना चाहिए. यदि आप भी उन कपल्स में से हैं तो सजग हो जाइए. कोशिश कीजिए और जानिए ऐसा क्यों हो रहा है, आखिर यह कमी क्यों आ रही है.

ये भी पढ़ें- यहां औरत नहीं, मर्द बेचते हैं अपना जिस्म

आप के सैक्सुअल रिलेशन में कमी की कही ये वजहें तो नहीं :

अधिक तनाव : घर का तनाव, बच्चों का तनाव, औफिस का तनाव, रिश्तेदारों का तनाव और भी न जाने कैसीकैसी बातें रोजमर्रा में होती रहती हैं जिन से हमारा दिमाग तनावमुक्त नहीं हो पाता. तनाव से निपटने का समाधान मिलता नहीं है और हम हर समय तनाव से ग्रस्त रहते हैं, जो वजह बनती है सैक्स में कमी की. डाक्टरों का मानना है तनाव की वजह से कार्टिसोल नाम का स्ट्रैस हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है, इस से टेस्टोस्टोन और लिबिडो कम हो जाते हैं, यही कारण है कि सैक्स की चाह कम हो जाती है. यदि अपनी जिंदगी में सैक्स की गर्मजोशी बरकरार रखना चाहते हैं तो तनाव से दूरी बनाएं.

अत्याधिक ऐक्सरसाइज : यों तो ऐक्सरसाइज शरीर के लिए अति उत्तम है लेकिन कहते हैं न हर चीज की अति बुरी होती है. जी हां, यदि आप ऐक्सरसाइज लवर हैं तो आप के जीवन का लव कम हो सकता है.

आप ऐक्सरसाइज को अपनी दिनचर्या के कई घंटे देते हैं तो इस से नैगेटिव रिजल्ट सामने आएंगे, जैसे कि एक रिसर्च कहती है कि एक्सरसाइज करते समय जो मेहनत आप करते हैं उस से शरीर में तनाब बढ़ता है जिस से एंड्रोक्राइन सिस्टम में गड़बड़ी होती है, जिस की वजह से टैस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो सकता है जिस से सैक्स के प्रति चाह में कमी आती है.

यही नहीं अतिरिक्त एक्सरसाइज की वजह से एस्ट्रोजेन के स्तर में भी कमी हो सकती है जिस से कामेच्छा कम होने की आशंका होती है. आप हर समय थकान और सुस्ती महसूस करते हैं और यही कारण है कि सैक्स से दूर रहते हैं.

ये भी पढ़ें- सेक्स ताकत पर असर डालता खानपान

नींद का पूरा न होना : आजकल व्यक्ति की दिनचर्या बहुत व्यस्त हो गई है. कामकाज के चक्कर में सारा दिन भागादौड़ी लगी रहती है. रात में व्यक्ति थकान से चूर होता है. ऐसे में सैक्स में कमी आना वाजिब है. बात सिर्फ काम की अधिकता की नहीं, काम की वजह से रात को पर्याप्त नींद नहीं लेने के कारण भी थकान से भरे रहते हैं जिस से सैक्स की चाह में कमी आ सकती है. आराम न करने से लिबिडो कम हो सकता है. जिस से अवसाद, वजन बढ़ने की समस्या भी सैक्स में कमी लाती है. सीधे तौर पर कहें तो सैक्स में इच्छा बढ़ानी है तो पर्याप्त आराम और नींद लें.

दवाइयां भी बन सकती हैं वजह : कुछ ऐसी दवाइयां हैं जो आप अपनी आम बीमारियों को दूर करने के लिए लेते हैं लेकिन इन दवाओं के सेवन से आप की सैक्स इच्छा में कमी आ सकती है जैसे कि उक्त रक्तचाप की दवाएं, हार्मोंन संबंधी दवाइयां, पेनकिलर्स, अस्थमा में ली जाने वाली दवाइयां, एंटी डिप्रैसेंट दवाएं ऐसी है जिन के नियमित लेने से सैक्स में रुचि कम होने लगती है.

टेक्नोलौजी बढ़ाए दूरियां : आज व्यक्ति सोने से पहले, सुबह उठने के बाद, मैट्रो में सफर करते हुए, जब खाली समय मिले तो उंगलियां मोबाइल पर चलने लगती हैं. इंटरनेट, मोबाइल, कंप्यूटर, टीवी जिंदगी के अभिन्न अंग बन गए हैं, जबकि इन तकनीकी गेजेट्स से कुछ समय के लिए दूरी बनाए रखनी चाहिए. लेकिन हम ने टेक्नोलौजी को अपने से चिपका लिए है जिस की वजह से सैक्स इच्छा दिनोंदिन घट रही है.

ये भी पढ़ें- पीरियड्स में सैक्स नो टैंशन

यदि कुदरत के इस सुख को भोगना चाहते हैं तो इन कृत्रिम सुख से दूर रहें. मोबाइल से नजरें उठा कर अपने पार्टनर पर ध्यान दें. इसे अपना समय दें. सैक्स की बातें करें. यकीन मानिए इस तरह सैक्स के प्रति चाह अपनेआप बढ़ जाएगी.

Tags:
COMMENT