कर्जदारों से बचने के लिए बिल्डर शिवदत्त ने अपने अपहरण का जो खेल खेला, वह उस के घर वालों पर तो भारी पड़ा ही, वह खुद भी अपने ही जाल में फंस गया. उस के लिए परेशान रही भीलवाड़ा पुलिस ने 42 दिन बाद ही सही उसे...