राजनेता अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी प्रारंभिक दिनों को छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों की ही आंखों का कांटा बनी रही है.