खुशामद यानी चमचागीरी एक ऐसी कला है जो हर किसी को नहीं आती. आज के दौर में जिसे यह कला नहीं आती उस का जीना ही व्यर्थ है. चलिए, आप ही बताइए, क्या आप में है खुशामद करने का हुनर? पढि़ए, का रोचक व्यंग्य.