सरस सलिल विशेष

झक्कास अभिनेता अनिल कपूर बौलीवुड के ऐसे हीरो हैं जिनकी बढ़ती उम्र का कोई असर नहीं दिखता. 60 साल की उम्र में भी उनमें युवाओं जैसी एनर्जी है. अनिल कपूर के फिल्‍मी करियर की शुरुआत फिल्‍म ‘हमारे तुम्‍हारे’ के एक छोटे से किरदार से हुई. उनके हार्डवर्क और बेहतरीन एक्टिंग की वजह से उनका नाम बी-टाउन में बड़े सम्मान के साथ लिया जाता है.

युवाओं को आज भी अपनी एक्टिंग के साथ-साथ स्टाइल से चुनौती देने वाले अनिल कपूर की लाइफ हमेशा से इतनी आसान नहीं थी. क्या आप जानते हैं कि अनिल कपूर जब मुंबई आए थे तो उनका परिवार गैरेज में रहा करता था.  नहीं जानते तो कोई बात नहीं चलिए आज हम बताते हैं.

अपने 40 साल के करियर में अनिल कपूर ने 100 से भी अधिक फिल्में की हैं जिनमें ‘तेजाब’, ‘मिस्टर इंडिया’, ‘विरासत’, ‘पुकार’, ‘ईश्वर’, ‘स्लमडौग मिलियनेयर’ और ‘बुलंदी’ जैसी सुपरहिट फिल्में शामिल हैं. लेकिन अनिल कपूर की लाइफ हमेशा से इतनी शानदार नहीं थी.

कड़ी मेहनत और लंबे संघर्ष करने के बाद उन्होंने दुनियाभर में नाम कमाया है. यहां तक कि जब अनिल कपूर पहली बार मुंबई आए थे तो उनका परिवार एक गैरेज तक में रहने को मजबूर था. जी हां, आज भले ही अनिल कपूर ने देश दुनिया में अपनी अलग पहचान बना ली है, लेकिन जब उनका परिवार मुंबई आया था तो वो शो मैन राज कपूर के गैरेज में रहते थे.

इसके बाद उन्होंने मिडिल क्लास इलाके में एक कमरा किराए पर ले लिया था. अनिल कपूर के पिता सुरेंद्र कपूर की लगन के चलते उनके परिवार को एक अच्छी लाइफ मिल पाई. सुरेंद्र कपूर फिल्म डायरेक्टर थे इसलिए अनिल का रुझान शुरू से फिल्मों की तरफ रहा. अनिल ने बतौर लीड एक्टर अपनी पहली डेब्यू फिल्म 1980 में तेलुगु सिनेमा में की थी.

आपको बता दें कि अनिल कपूर ने कई सारे विदेशी फिल्मों मे भी काम किया है. अनल कपूर 60 साल के हैं लेकिन उन्हें देखकर कोई भी ये नहीं कह सकता कि वो इतने बड़े हैं. अनिल कपूर खुद को लेकर काफी सतर्क रहते हैं. यही वजह है कि अनिल जहां भी जाते हैं उनसे उनके जवान बने रहने का राज पूछा जाता है. फिलहाल अनिल कपूर ‘फन्ने खां’ की शूटिंग में व्यस्त हैं.