सरस सलिल विशेष

मरीना अब्रामोविक एक परफॉरमेंस आर्टिस्ट हैं. ये यूगोस्लाविया से हैं. क्या आप जानते हैं कि, क्यों मरीना को दुनिया भर में जाना जाता है. इसके पीछे कारण है इनका अनोखा काम. इनकी परफॉरमेंस में ऐसा नहीं होता कि ये किसी स्टेज पर हों, और बाकी लोग केवल इन्हें देख या सुन रहे हों. इनकी परफॉरमेंस ये ध्यान में रखते हुए की जातीं हैं कि वहां मौजूद सभी लोग इसका हिस्सा बन सकीं.

मरीना को परफॉर्म करते हुए 30 सालों से ज्यादा हो गए हैं. परफॉरमेंस आर्ट की दुनिया में इन्हें ‘बड़ी मां’ कहा जाता है. क्योंकि इनकी परफॉरमेंस लोगों को खुद से ही परिचित करवाती है.

मरीना ने फाइन आर्ट्स की ट्रेनिंग ली है और इसके बाद वे परफॉरमेंस करने लगीं. मूक, चेहरे पर दृढ़ता, आंखों में कठोरता मिश्रित दर्द. शायद से बात तो आप सभी जानते होंगे कि मरीना ने रिदम नाम से कई परफॉरमेंस दीं. इसमें से इनकी कुछ परफॉरमेंस हमेशा याद रखी गईं. ऐसी ही एक परफॉरमेंस थी रिदम जीरो.

इटली के नेपल्स शहर में हुई इस परफॉरमेंस को लोग आज भी याद रखते हैं. परफॉरमेंस साल 1974 में हुई थी. मरीना इसके बारे में आज भी बात करती हुई देखी जाती हैं. 6 घंटे चली इस परफॉरमेंस में मरीना ने कुछ भी नहीं किया था. वो सारे कपड़े उतारकर बस खड़ी रहीं. पास में एक टेबल था. टेबल पर 72 चीजें रखी हुई थीं. वहां आए लोगों को उन 72 चीजों में अपनी पसंद की चीज से मरीना के साथ कुछ भी करना था. मरीना ने लिखा था कि उनके साथ जो भी कुछ होता है, उसकी जिम्मेदारी वो खुद लेंगी.

इस परफॉरमेंस में कोई स्टेज नहीं था. उनका लक्ष्य बस इतना था कि वे देखना चाहती थीं कि ऐसी स्थिति में पब्लिक किस हद तक जा सकती है.

तो उसके निर्देश कुछ ऐसे ऐसे थे :

टेबल पर 72 चीजें हैं. लोग इनमें से कितनी भी चीजें मेरे ऊपर इस्तेमाल कर सकते हैं.

मैं इस परफॉरमेंस की वस्तु हूं.

इस दौरान जो भी होगा उसकी जिम्मेदारी मेरी होगी.

समय: 6 घंटे (शाम 8 से रात 2 बजे तक)

यहां हम आपको बता देना चाहते हैं कि पहले तो उनके करीब केवल फोटोग्राफर आए. फिर लोग आने शुरू हो गए. पहले तो केवल उन्हें देखते रहे. कुछ ने उन्हें हिलाया-डुलाया. हाथ-पांव हिलाए. उन्हें एक जगह से दूसरी जगह ले जाकर खड़ा कर दिया. फिर लोग टेबल की ओर बढे.

टेबल पर सुंदर वस्तुओं से लेकर खतरनाक वस्तुएं थीं. पंख और फूल थे. ब्लेड, चाकू और बंदूक भी थे. लोगों ने मरीना के ऊपर चीजें टांग दीं. रस्सी से बांधा. एक व्यक्ति ने उन्हें ब्लेड से काट दिया. एक और व्यक्ति ने उन्हें लोडेड बंदूक खुद पर तानने के लिए कहा.

एक व्यक्ति ने तो उन्हें नग्न कर उनका शरीर जहां-तहां छुआ. लोगों को इसपर भी सुकून नहीं पड़ा. उन्होंने मरीना के शरीर में कांटे भोंक दिए.

इसके बाद जब परफॉरमेंस खत्म हुई, यानि कि 6 घंटे के बाद, मरीना ने कमरे में चलना शुरू किया. हर एक व्यक्ति के पास गईं. आंखों में आंखें डालकर खड़ी हो गईं. वे लोग जो उनको कुछ देर पहले हैरेस कर रहे थे, अब उनकी आंखों में भी नहीं देख पा रहे थे. मरीना ने उन्हें उनके अंदर का राक्षस दिखा दिया था.

मरीना ने बाद में कहा कि ‘इस परफॉरमेंस ने ये बताया कि इंसानियत की सबसे बुरी चीज क्या है. लोग आपको असहाय पाकर आपको पीड़ा देने का एक भी मौका नहीं गंवाते. ये बताता है कि कितना आसान है किसी इंसान को वस्तु बनाकर उसके साथ बुरा बर्ताव करना.

वीडियो में देखें क्या कहती हैं मरीना…