सरस सलिल विशेष

अमरीश पुरी के विलेन किरदारों का जलवा देश विदेश तक था. तभी तो उन्हें हौलीवुड की फिल्म में विलेन के लिए कास्ट किया गया था. लेकिन क्या आप जानते हैं अमरीश पुरी ने हौलीवुड के जाने माने डायरेक्टर स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग को भी भारत आने पर मजबूर कर दिया था, नहीं जानते तो कोई बात नहीं चलिए आज हम बताते हैं.

दरअसल ये वाकया साल 1984 में रिलीज हुई फिल्म ‘Indiana Jones and the Temple of Doom’ का है. इस फिल्म के डायरेक्टर स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग थे. स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग इस फिल्म के लिए अमरीश पुरी को कास्ट करने से पहले उनका स्क्रीन टेस्ट लाने चाहते थे.

स्क्रीन टेस्ट के लिए अमरीश पुरी को हौलीवुड से बाकायदा इनविटेशन भी भेजा गया था. लेकिन अमरीश पुरी ने ये प्रस्ताव ठुकरा दिया था. अमरीश पुरी का कहना था कि अगर वो मेरा स्क्रीन टेस्ट लेना चाहते हैं तो भारत आकर लें.

इसके बाद हुआ भी ऐसा ही, हौलीवुड के नामी डायरेक्‍टर स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग अमरीश पुरी का स्क्रीन टेस्ट लेने के लिए भारत आए थे. बाद में अमरीश पुरी को फिल्म ‘Indiana Jones and the Temple of Doom’ में ‘मोला राम’ का रोल मिला था, जो बलि देने का काम करता था.

स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग अमरीश पुरी की एक्टिंग के कायल थे. उन्हें अमरीश पुरी के विलेन वाले रोल काफी पसंद थे. यहां तक कि उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान अमरीश पुरी को दुनिया का सबसे बेहतरीन विलेन तक घोषित कर दिया था. भले ही अमरीश पुरी को दुनिया से अलविदा कहे कई बरस बीत गए हों. लेकिन आज भी उनकी फिल्में उनका हमारे बीच होने का एहसास करा ही देती हैं.