सिगरेट का धुंआ एक्टिव स्मोकर से ज्यादा पैसिव स्मोकर के लिए हानिकारक होता है और सिगरेट पीने से समाज में बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है.