उत्तर प्रदेश की चुनावी सभाओं में अखिलेश राहुल एक तरफ और मोदी शाह दूसरी तरफ नारों की बरसात तो करते रहे हैं, पर उन से इस बड़े राज्य का भला होने वाला है, ऐसा कहीं नहीं दिखता.