उत्तर प्रदेश सरकार 50 वर्ष से ज्यादा उम्र के हो चुके सरकारी अधिकारियों का मूल्यांकन कर के अयोग्यों को रिटायर करने पर विचार कर रही है.