अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में कोई चमत्कार नहीं किया लेकिन संविधान ने भी वास्तव में दिल्ली सरकार को बहुत कम अनियंत्रित अधिकार दिए हैं.