उत्तराखंड राज्य की राजधानी देहरादून में रहने वाले सागर चांदना ने परिवार के साथ गोवा घूमने का प्रोग्राम बनाया. इस के लिए उन्होंने इंटरनैट पर एक वैबसाइट के शानदार औफर देखे, तो रजिस्ट्रेशन कर दिया.

जल्द ही कंपनी के लोगों ने उन से बात कर ली और स्पैशल पैकेज दे कर उन से पैसा भी वसूल लिया, लेकिन चंद रोज में ही उन के सारे सपने बिखर गए, क्योंकि जिस वैबसाइट के वे झांसे में आए, वह फर्जी निकली.

साइबर ठगी के शिकार सागर चांदना ने पुलिस में शिकायत की. पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद ठगों की पूरी मंडली को खोज कर गिरफ्तार कर लिया. पुलिस दंग रह गई, जब उसे पता चला कि ये ठग इसी तरह लोगों को अपना शिकार बना कर हर महीने लाखों रुपए कमाते थे.

साइबर क्राइम करने वाले गिरोह के सदस्य इतने शातिर थे कि वे ऐसे मनचाहे औफर देते थे कि उन के शिकार को अपने साथ हो रही ठगी का पता ही नहीं चलता था. इस गोरखधंधे में वे पहले कभी पकड़े भी नहीं गए थे.

दरअसल, सागर चांदना नए साल पर गोवा घूमना चाहते थे. 29 नवंबर, 2016 को उन्होंने डील्स ए ट्रैवल डौट कौम नामक वैबसाइट पर 4 लोगों के गोवा जाने के लिए अच्छा पैकेज हासिल करने के लिए अपना मोबाइल नंबर व ईमेल आईडी दे कर औनलाइन रजिस्टे्रशन कराया.

अगले दिन मैजिक यात्रा कंपनी की तरफ से एक आदमी ने खुद को सैल्स अधिकारी बता कर उन से मोइल फोन पर बात की. उस ने 22 जनवरी से 26 जनवरी तक के लिए 4 रात 5 दिन का टूर पैकेज बताया.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरस सलिल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...