एक खबर के मुताबिक सेल के प्रभारी डा. अरोड़ा ने बताया- उन्हें पहले भी नोटिस किया गया था और उन्होंने विज्ञापन बंद कर दिया था लेकिन फिर दोबारा उन्हें ऐसा करते देखा गया. दुकानों पर उनके पोस्टर लगाए गए हैं और सेल ने कई जगहों से पोस्टर हटवाए हैं.