अब अन्ना हजारे पूरी तरह नरेंद्र मोदी पर हमलावर होते उन पर तरहतरह के आरोप लगा रहे हैं कि उन की सरकार भ्रष्टाचार रोकने में नाकाम रही है और जन लोकपाल विधेयक को उन्होंने कमजोर कर दिया है.