कल जब नारी मुक्ति आंदोलन का इतिहास लिखा जाएगा तो हमारा नाम स्वर्ण अक्षरों में सब से ऊपर होगा, तीनतीन शिफ्टों में खूबसूरत महिलाओं को स्कूटर या कार चलाने की ट्रेनिंग जो देते हैं. कंपीटिशन का जमाना है भाई.