हम सब जानते हैं कि बापू को साफसफाई बहुत पसंद थी और वे ज्यादातर बीमारियों की अहम वजह शौचालयों में फैली गंदगी को मानते थे.