सरस सलिल विशेष

सवाल
मैं 22 वर्षीय युवक हूं. मैं एक लड़की से बहुत प्यार करता था और उस के साथ शादी करना चाहता था. लेकिन उस के दादाजी उस की शादी कहीं और करना चाहते थे. लड़की ने कहीं और शादी करने की बात पर खुदकुशी करने की धमकी दी तो उस की बूआ और दादी ने फोन कर के मुझ से कहा कि मैं उसे भगा कर ले जाऊं.

दादी व बूआ के कहने पर मैं लड़की को जैसे ही ले कर उन के घर से निकला, पुलिस ने मुझे लड़की को भगाने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया. दरअसल, लड़की के दादाजी ने पहले से ही मुझ पर केस कर दिया था.

कुछ समय बाद जब कोर्ट में केस के दौरान लड़की से बयान देने के लिए कहा गया तो उस ने उसे भगाने के लिए मुझे दोषी ठहराया जिस के परिणामस्वरूप मुझे 7 साल की सजा हो गई.

अब करीब 4 साल की सजा काट कर मैं जमानत पर बाहर निकला हूं. लेकिन मैं आज भी उस लड़की को उतना ही चाहता हूं जितना पहले चाहता था. वर्तमान स्थिति में मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं क्या करूं, उस से मिलूं या नहीं, सलाह दें.

जवाब
आप ने यह नहीं बताया कि लड़की और आप की उम्र क्या है? आप दोनों बालिग हैं या नाबालिग? और दूसरी बात लड़की ने अदालत में आप के खिलाफ बयान क्यों दिया था जिस की वजह से आप को 4 साल की सजा जेल में काटनी पड़ी.

एक संभावना यह भी हो सकती है कि लड़की ने उस समय अदालत में आप के खिलाफ बयान अपने परिवार वालों के दबाव में आ कर दिया हो. वर्तमान स्थिति में अगर आप उस लड़की को अभी भी चाहते हैं और सारी बात साफ करना चाहते हैं तो आप एक बार उस लड़की से मिल कर सारी बात साफ कर लें और उस के बाद ही निर्णय लें कि आप को उस के साथ कोई संबंध रखना है अथवा नहीं.