सरस सलिल विशेष

राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उन की बीवी राबड़ी देवी को ‘सूटेबल बहू’ की तलाश है. उन्हें ऐसी बहू चाहिए, जो उन का और उन के घरपरिवार का खयाल रखे. नौकरी करने वाली या राजनीति करने वाली बहू उन्हें कतई नहीं चाहिए. उन्हें सीधीसादी घरेलू लड़की ही चाहिए.

लालू प्रसाद यादव कहते हैं कि लड़की के लिए कोई खास क्राइटेरिया नहीं है. वे राबड़ी देवी जैसी सोच वाली सीधीसादी लड़की खोज रहे हैं, जो हर हाल में साथ निभाए और परिवार का खयाल रखे.

लालूराबड़ी के बेटे तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव बिहार के ‘मोस्ट ऐलिजिबल’ बैचलर हैं. उन के बड़े बेटे तेजप्रताप बिहार के स्वास्थ्य मंत्री हैं और छोटे बेटे तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री हैं. दोनों के लिए जोरशोर से लड़की देखने और चुनने की कवायद शुरू कर दी गई है.

लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे साल 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर विधानसभा पहुंचे थे और उस के बाद नीतीश सरकार में मंत्री बनाए गए थे. तेजप्रताप यादव ने महुआ विधानसभा सीट से चुनाव जीता था और तेजस्वी यादव ने राघोपुर सीट से.

लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी दावा करते हैं कि वे अपने दोनों बेटों की शादी में दहेज नहीं लेंगे. राबड़ी देवी इस में एक बात और जोड़ती हैं कि दहेज तो नहीं लेंगे, लेकिन कोई गाय देना चाहेगा, तो जरूर ले लेंगे.

साथ ही, वे यह भी कहती हैं कि उन्हें गुणवान और सुंदर बहू चाहिए. तेजप्रताप यादव भी शादी को ले कर पूछे गए सवालों के जवाब में कहते हैं कि वे अपने मातापिता की पसंद की लड़की से ही शादी करेंगे. लालूराबड़ी के 2 बेटे और 7 बेटियां हैं. सातों बेटियों की शादी हो चुकी है. मीसा भारती, रागिनी, राजलक्ष्मी, हेमा, रोहिणी, चंदा और धन्नु लालू की बेटियां हैं. सभी अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियां संभाल रही हैं.

बड़ी बेटी मीसा भारती को पिछले साल राज्यसभा का सदस्य बनाया गया था. उन के पति शैलेश कुमार इंजीनियर हैं और उन के 2 बच्चे हैं. पिछले साल यह हवा जोरों से चली थी कि बाबा रामदेव के किसी रिश्तेदार की बेटी से तेजप्रताप यादव की शादी तय हो चुकी है और उस के बदले बिहार के हाजीपुर में बाबा रामदेव को डेरी फार्म खोलने के लिए जमीन मुहैया की जाएगी. यह बात बाद में अफवाह साबित हो कर रह गई.

पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी के नेता सुशील कुमार मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा था कि लालू प्रसाद यादव ने अपने बेटों को राजनीति में सैटल कर दिया है और अब उन्हें उन की शादी कर देनी चाहिए.

उन के इस मजाक पर तेजप्रताप यादव तैश में आ गए और कह डाला कि मोदी अपने बेटे की शादी क्यों नहीं करते हैं? क्या वह नपुंसक है? उन की इस बात पर बिहार की सियासत गरमा गई, तो लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार को उस पर पानी डालने के लिए आगे आना पड़ा.