सरस सलिल विशेष

पहले यह माना जा रहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा राजनीति से संन्यास ले सकते हैं. उन्होंने बीते दिनों ख़ुद इस तरह के संकेत दिए थे. लेकिन अब कहा जा रहा है कि उन्होंने राजनीति से संन्यास लेने के अपना इरादा छोड़ दिया है. अब वे 2019 का लोक सभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक देवेगौड़ा इस बार मैसुरु या मांड्या सीट से चुनाव लड़ सकते हैं. जबकि अपनी मौज़ूदा हासन सीट वे पौत्र प्रज्जवल रेवन्ना के लिए छोड़ सकते हैं. सूत्रों की मानें तो देवेगौड़ा हालांकि ख़ुद मैसुरु से चुनाव लड़ने में ज़्यादा दिलचस्पी दिखा रहे हैं. यही नहीं कर्नाटक में अपनी पार्टी जनता दल-धर्मनिरपेक्ष (जेडीएस) के साथ सरकार चला रही कांग्रेस के लिए भी वे प्रदेश की 16 लोक सभा सीटें ही छोड़ने के मूड में हैं. बाकी 12 सीटों पर वे अपनी पार्टी के उम्मीदवार उतारना चाहते हैं.

सूत्रों की मानें तो देवेगौड़ा की योजना को 2019 की इस संभावना से जोड़कर देखा जा रहा है जब भारतीय जनता पार्टी और उसके नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को केंद्र में सरकार बनाने लायक बहुमत न मिले. ऐसे में देवेगौड़ा खुद को प्रधानमंत्री पद के लिए संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार के तौर पर देख रहे हैं.