आज के राजनेता विचारधारा को ताक पर रख कर सत्ता पर बैठे रसूखदार लोगों से नजदीकी बढ़ाने को ही राजनीति कहते हैं. कई राजनीतिक दलों के अनुभव ले चुके अमर सिंह भी इन दिनों इसी परंपरा का निर्वाह करते नजर आ रहे हैं.