हुस्न के आशिक, जहां है वहीं टिक, आंखों ही आंखों में सीने के राज को नोंच कर ले गया.