रह गई कसक बाकी बीते दिन की, मिल चुकी खाक में, उम्मीदें अपनी सारी, रह गई बाकी, याद उस की सारी.