तकनीक, तरक्की और आधुनिकता का ढोल पीटता हमारा समाज आज भी दलितों का उत्पीड़न कर रहा है जिस से देश की छवि दुनियाभर में धूमिल हो रही है.